Scheme of the government of India

 List of government schemes of india –

नमस्कार दोस्तों! आज हम बात करते हैं भारत की प्रमुख योजनाओं के विषय में जिससे संबंधित हर प्रतियोगी परीक्षाओं में प्रश्न पूछ लिए जाते हैं, आप सभी इन योजनाओं से जानकारी प्राप्त करें एवं अन्य लोगों तक योजनाओं के विषय में लोगों को जानकारी   प्रदान करें जिससे सभी लोग इन योजनाओं का लाभ उठा सकें।

अटल पेंशन योजना –

इस योजना का शुभारंभ 9 मई 2015 को वित्त मंत्रालय द्वारा किया गया । इस योजना के विषय में 2015 के बजट भाषण में अरुण जेटली ने इसका जिक्र किया था। इस योजना का पुराना नाम स्वावलंबन योजना है। 18 से 60 वर्ष के व्यक्ति इस योजना से लाभान्वित हेतु पात्र हैं ।

प्रधानमंत्री श्रम योगी मान धन योजना – 

इस योजना का शुभारंभ फरवरी 2019 में श्रम मंत्रालय द्वारा किया गया था इस योजना का उद्देश्य 60 वर्ष से कम उम्र के पश्चात प्रतिमाह न्यूनतम ₹3000 निश्चित पेंशन दी जाएगी यह पेंशन योजना और संगठित क्षेत्र के कामगारों के लिए है। इस योजना के तहत घर में काम करने वाले दुकानदार, ड्राइवर प्लंबर, दर्जी ,रिक्शाचालक ,मजदूर ,किसान आदि इसके अब लाभार्थियों में होंगे।

प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना – 

इस योजना का शुभारंभ 23 सितंबर 2018 को झारखंड के रांची से प्रारंभ किया गया। आयुष्मान भारत योजना के तहत चलाई गई योजना का नाम जन आरोग्य योजना है अर्थात इसे आयुष्मान योजना भी कहते हैं। 1000000 करोड़ परिवारों को यानी तकरीबन 50 करोड़ लोगों को सालाना ₹500000 तक मुफ्त में इलाज की सुविधा सरकार प्रदान करेगी। इस योजना का शुभारंभ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा 14 अप्रैल 2018 को छत्तीसगढ़ के बीजापुर से किया गया था इस योजना का अन्य नाम मोदी केयर योजना भी है।

वन नेशन वन फास्टैग योजना – 

इस योजना का शुभारंभ 1 दिसंबर 2019 से संपूर्ण देश में किया गया है। इस योजना को सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय के मंत्री नितिन गडकरी ने प्रारंभ किया। इस योजना का उद्देश्य टोल के संग्रह को डिजिटल रूप में एकत्रित करना एवं संपूर्ण भारत में वाहनों के बाधारहित गति को सुनिश्चित करना है। फास्टैग वह स्टीकर है जो वाहनों के विंडस्क्रीन पर चिपकाए जाते हैं जिससे डिजिटल लेन देन को आसान बनाया जाता है।

विज्ञान ज्योति योजना –

इस योजना का शुभारंभ अक्टूबर 2019 में किया गया था। इस योजना के माध्यम से वर्ष 2020 से 25 तक 550 जिलों में 100 छात्राओं को शिक्षित किया जाएगा। इस योजना के तहत नौ से बारह तक की छात्राओं को शामिल किया गया है। केंद्र सरकार ने छात्राओं को स्टेम शिक्षा अर्थात STEM – science ,technology, engineering and mathematics के लिए प्रोत्साहन हेतु योजना का प्रारंभ किया गया है क्योंकि विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में सिर्फ 24% महिलाएं ही  कार्य कर रहीं हैं ।

सुमन : (सुरक्षित मातृत्व आश्वासन) योजना –

 इस योजना का शुभारंभ 10 अक्टूबर 2019 को केंद्र सरकार ने 100% सुरक्षित प्रसव हेतु सुमन योजना की शुरुआत की है। सुमन अर्थात सुरक्षित मातृत्व आश्वासन । इस योजना के तहत गर्भवती महिला को प्रसव से पहले चार बार मुफ्त जांच की सुविधा प्रदान की जाएगी। महिला के प्रसव पूर्व व बाद में मुफ्त एंबुलेंस सुविधा दी जाएगी।

‘फरिश्ते दिल्ली के’ योजना – 

इस योजना का शुभारंभ 7 अक्टूबर 2019 को किया गया था। इस योजना के तहत दिल्ली की सीमाओं में घायल व्यक्ति का इलाज मुफ्त में किया जाएगा।जो लोग सड़क एक्सीडेंट में घायल लोगों की सहायता करेंगे उन्हें सरकार पुरस्कार प्रदान करेंगी तथा  उन्हें दिल्ली के फरिश्ते कहा जाएगा। दुर्घटना होने के बाद का पहला घंटा गोल्डन आवर कहा जाता है, विश्व स्वास्थ्य संगठन ने कहा कि 1 घंटे में घायल को अस्पताल पहुंचा दिया जाए तो हर व्यक्ति की जान बच सकती है।

उम्मीद योजना – 

स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय मंत्री डॉ हर्षवर्धन ने उम्मीद योजना का शुभारंभ किया। इसमें नवजात बच्चों के माता-पिता को शिशुओं में होने वाले वंशानुगत रोगों के उपचार के लिए जागरूक किया जाएगा। इस योजना के तहत देश में 115 जिलों में ऐसी सुविधा केंद्र बनाए जाएंगे जहां रोगियों को सभी सुविधाएं प्रदान की जाएंगी।

 जल जीवन मिशन योजना – 

इस योजना का शुभारंभ 15 अगस्त 2019 को किया गया जिसका उद्देश्य 2024 तक सभी घरों को पाइप के जरिए पानी पहुंच जाना है। इससे जल और साफ-सफाई के जरिए बड़े पैमाने पर निवेश होने की उम्मीद है। कृषि उपयोग के लिए जल संचयन भोजन घरेलू अपशिष्ट जल के प्रबंधन हेतु स्थानीय बुनियादी ढांचा तैयार करना भी इसका उद्देश्य है।

राष्ट्रीय पशु रोग नियंत्रण कार्यक्रम – 

इस योजना का शुभारंभ 11 सितंबर 2019 को उत्तर प्रदेश के मथुरा से किया गया । देश में पशुओं के खुरपका और मुंहपका रोग और ब्रूसेलोसिस नियंत्रण के उन्मूलन के लिए राष्ट्रीय पशु नियंत्रण कार्यक्रम की शुरुआत की गई है। केंद्र सरकार ने 12,652 करोड़ की धनराशि उपलब्ध कराई है इस कार्यक्रम का उद्देश्य 500 मिलियन से अधिक पशुधन का टीकाकरण है इसके तहत गाय भैंस बकरी भेड़ सूअर को रोगों से बचाना है ।

प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना – 

इस योजना का शुभारंभ 1 मई 2016 को पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस मंत्रालय के   प्रमुख धर्मेंद्र प्रधान द्वारा किया गया। प्रथम वर्ष में गैस कनेक्शन वितरण का लक्ष्य 15 मिलियन रखा गया तथा 22 मिलियन लोगों को गैस कनेक्शन दिया गया इस योजना का उद्देश्य भारत के गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन करने वाले परिवारों को 5 करोड़ घरेलू रसोई गैस कनेक्शन वितरित किया गया है।दिसंबर 2018 तक योजना द्वारा लक्ष्य से 58 करोड़ कनेक्शन दिए गए हैं।

स्टैंडअप इंडिया योजना – 

इस योजना का शुभारंभ 5 अप्रैल 2016 को किया गया था। इस योजना का उद्देश्य वाक्य “करें प्रयास पायें विकास है”
इस योजना को वित्त मंत्रालय द्वारा अरुण जेटली ने प्रारंभ किया। योजना से महिलाओं अनुसूचित जाति जनजाति समुदायों के बीच उद्यमशीलता को बढ़ावा देना है । इस योजना के अंतर्गत 18 वर्ष का होना आवश्यक है योजना में सरकार लोगों को ऋण उपलब्ध कराएगी। लड़की सीमा 1000000 रुपए से 10000000 रुपए तक निर्धारित है। सरकार से उधर लिए राशि को 3% ब्याज दर से वापस लौट आना होगा। निम्न तबके के व्यक्ति निम्न ब्याज दर पर राशि प्राप्त करके उधमशील  बन सकते हैं । 

प्रधानमंत्री जनधन योजना –  

इस योजना का शुभारंभ 28 अगस्त 2014 को किया गया था। इसका उद्देश्य ज्यादा से ज्यादा लोगों को बैंकों से जोड़ना है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *