Follow us on Facebook

Ads Here

Thursday, 22 April 2021

World Earth day

  विश्व पृथ्वी दिवस – 

पृथ्वी के पर्यावरण एवं जागरूकता का प्रसार करने के लिए प्रतिवर्ष 22 अप्रैल को विश्व पृथ्वी दिवस मनाया जाता है ।

पृथ्वी दिवस पहली बार सन् 1970 में मनाया गया था इसका उद्देश्य लोगों को पर्यावरण के प्रति जागरूक करना है। विश्व पृथ्वी दिवस सिर्फ मनाने का ही दिन पर्व ना होकर महज इस बात पर विचार करने का दिन है कि हम किस प्रकार से इस पृथ्वी को सुंदर स्वच्छ प्रदूषण मुक्त बना सकें।

पृथ्वी दिवस मनाने का इतिहास – 

पृथ्वी दिवस मनाने की शुरुआत सन 1970 में अमेरिकी सीनेटर जेराल्ड नेल्सन के द्वारा पर्यावरण संबंधी शिक्षा के रूप में की गई थी। अब इसे कई देशों में पृथ्वी दिवस के रूप में प्रतिवर्ष मनाया जाता है। पृथ्वी दिवस की तारीख उत्तरी गोलार्ध में बसंत ऋतु एवं दक्षिणी गोलार्ध में  प्राय: शरद ऋतु का मौसम होता है। संयुक्त राष्ट्र संघ में पृथ्वी दिवस मार्च में मनाया जाता है यह दिन प्राय: 20 मार्च का होता है। जय परंपरा बन गई जिसकी स्थापना शांति कार्यकर्ता जॉन मैक्कोनेल  द्वारा की गई।

पृथ्वी दिवस मनाने का उद्देश्य – 

1970 में जब पहली बार पृथ्वी दिवस मनाया गया तब लगभग 20 मिलियन अमेरिकी लोगों ने इसमें अपनी सहभागिता दर्ज की। पृथ्वी दिवस को  दुनियाभर  में लगभग 195 देशों कि साथ मिलकर मनाते हैं। यह इस वक्त का सबसे बड़ा पर्यावरण आंदोलन बनकर उभरा है इसका उद्देश्य लोगों को जागरूक करना एवं पर्यावरण के महत्व के प्रति संवेदनशील बनाना है।

पृथ्वी एक मात्र ऐसा ग्रह है जिस पर जीवन संभव है, इसलिए हमें पृथ्वी को सुरक्षित रखना हमारा नैतिक कर्तव्य हो, संसाधनों को कम से कम उपयोग करें ताकि हम अपने आने वाली पीढ़ी को भी कुछ देकर जायें।पृथ्वी दिवस मनाये जाने की शुरुआत के साथ साथ ही ऐसे और भी पर्यावरण से संबंधित संवेदनशील मुद्दे पर लोगों ने ध्यान देना शुरू किया जैसे कि जलवायु परिवर्तन ,ओजोन परत का क्षरण , ग्लोबल वार्मिंग ,पर्यावरण प्रदूषण, जल संरक्षण ,कार्बन उत्सर्जन को कम करने का प्रयास किया जाए। 

पृथ्वी को पर्यावरण से मुक्त करने के लिए सामाजिक राजनीतिक दोनों ही स्तर पर कदम उठाए जाने आवश्यक है। कुछ पर्यावरण से प्रेम रखने वाले लोग पृथ्वी को प्रदूषण मुक्त बनाने में निरंतर प्रयासरत हैं। किसी एक व्यक्ति या समाज अथवा संस्था की मात्र चिंता नहीं है किंतु यह पूरे समुदाय की एक नैतिक जिम्मेदारी है कि हम पृथ्वी पर सुंदरता सौहार्द प्रदूषण से मुक्त बनाए रख सकें। पर्यावरण को बचाने के लिए हम एकजुट होकर बहुत कुछ कर सकते हैं पॉलिथीन के उपयोग को कम करना कागज के इस्तेमाल को कम करना एवं रीसाइकलिंग को बढ़ावा देने के लिए लोगों को प्रोत्साहित करना चाहिए। जिससे पृथ्वी पर कचरा कम होगा। हमें पॉलीथिन के उपयोग से बचना होगा हमें ऐसी आदतें विकसित करनी चाहिए कि जिससे पृथ्वी पर कचरा कम से कम हो बाजार जाते समय कपड़े का बैग साथ में लेकर जाए ऐसी छोटी-छोटी महत्वपूर्ण बातों का ध्यान रखकर हम सामूहिक रूप से बहुत योगदान दे सकते हैं। आज हम जो कुछ भी है इसी पृथ्वी पर हैं पृथ्वी हमारे लिए अनमोल है जन्म से लेकर दुनिया में कदम रखने मृत्यु पर्यंत तक हम इसी पृथ्वी पर जीवन यापन करते हैं फिर क्यों इस प्रकार वस्तुओं का दोहन करें कि आने वाले पीढ़ियों के लिए लिए हम कुछ संसाधन भी विरासत रूप में ना छोड़कर जा सके। ज्यादा से ज्यादा पेड़ लगाएं जिससे वातावरण मैं शुद्धता बनी रहे। यह हम सभी का दायित्व है। वृक्षारोपण से ग्रीन हाउस गैसों के उत्सर्जन को घटाने एवं प्रदूषण से मुक्ति पाने भू शरण को टालने तथा जैव विविधता के लिए आशियाना बनाने में मदद मिलती है बच्चों के साथ मिलकर उन्हें समझाएं प्रकृति का पाठ पढ़ाएं।

‌पृथ्वी दिवस की थीम – 

इस वर्ष पृथ्वी दिवस की थीम “रिस्टोर आवर अर्थ”(Restore our earth) है, अर्थात हमारी पृथ्वी का जीर्णोद्धार । 2021 के  पृथ्वी दिवस कार्यक्रम के तहत अमेरिका के राष्ट्रपति जो बिडेन ने वर्ल्ड के 40 लीडर को  वर्चुअल समिट का हिस्सा बनने के लिए आमंत्रित किया। करोना महामारी के कारण इस कार्यक्रम की लाइव स्ट्रीमिंग की जाएगी। पर्यावरण की दृष्टि दुनिया को पृथ्वी के संबंध में व्यापक दृष्टिकोण रखने की आवश्यकता है। सभी राष्ट्र को एकजुट होकर समस्या से निपटने के लिए कार्य करना होगा।

यह भी पढ़ें 👉 Uppcs previous year question papers

No comments:

Post a Comment