Follow us on Facebook

Ads Here

Wednesday, 23 December 2020

Passes ( दर्रा)

 

Passes 

भारत के प्रमुख दर्रे –

दोनों तरफ पर्वतों से गिरे हुए विस्तृत,  प्राकृतिक मार्ग को दर्रा कहते हैं। परिवहन, युद्ध ,मानवीय आवास, व्यापार में ये दर्रे महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं।

हिमाचल प्रदेश-

1. शिपकीला दर्रा – हिमाचल प्रदेश के जास्कर श्रेणी में स्थित है तथा यह शिमला को तिब्बत से जोड़ता है।
2. रोहतांग दर्रा -यह हिमाचल प्रदेश की पीर पंजाल श्रेणियों में स्थित है इसकी ऊंचाई 46 से 31 मीटर है एवं हिमाचल प्रदेश के कुल्लू लाहुल व स्पीति में स्थित है।
3. बड़ालाचा दर्रा – इसकी ऊंचाई 4890 मीटर है।

जम्मू एवं कश्मीर-

जम्मू एवं कश्मीर में काराकोरम दर्रा ,जोजिला दर्रा, पीरपंजाल दर्रा, बनिहाल दर्रा ,बुर्जिल दर्रा यह पांच दर्रे स्थित है।
1.काराकोरम दर्रा -यह जम्मू एवं कश्मीर राज्य के लद्दाख क्षेत्र में काराकोरम पहाड़ियों के मध्य स्थित है। इस दर्रे से होकर यारकंद तथा तारीम बेसिन मार्ग जाता है। यह भारत का सबसे ऊंचा 5664 मीटर दर्रा है।
यहां से चीन को जाने वाली सड़क भी बनी है।
2. जोजिला दर्रा -यह जम्मू एवं कश्मीर राज्य की जांस्कर श्रेणी में स्थित है। इससे श्रीनगर से लेह और कारगिल मार्ग गुजरता है।
3.बुर्जिल दर्रा -यह श्रीनगर को गिलगिट से जोड़ती है।

उत्तराखंड –

उत्तराखंड में प्रमुखता तीन दर्रे हैं।
 नीति दर्रा (यह उत्तराखंड को तिब्बत से जोड़ता है)
लिपुलेख दर्रा ,माना दर्रा(उत्तराखंड की कुमाऊ पहाड़ियों में स्थित है।)

सिक्किम –

नाथूला दर्रा ,जैलेप्ला दर्रा
1. नाथूला दर्रा -भारत चीन युद्ध 1962 में सामरिक महत्व के कारण चर्चित रहा यह दर्रा सिक्किम के  डोगेक्या  श्रेणी में स्थित है।
 2.जैलेप्ला दर्रा -इस दर्रे में दार्जिलिंग व चुंबी घाटी से होकर तिब्बत जाने का मार्ग जाता है।

अरूणाचल प्रदेश –

बोमडिला दर्रा ,यांग्याप  दर्रा, दिफू दर्रा 
1. बोमडिला दर्रा -अरुणाचल प्रदेश के उत्तर पश्चिम भाग में स्थित है इस दर्रे से तवांग घाटी होकर तिब्बत जाने का मार्ग है।
2.यांग्याप  दर्रा -इस दर्रे के पास ब्रह्मपुत्र नदी भारत में प्रवेश करती है यहां से चीन के लिए भी मार्ग जाता है ।

थालघाट –

 583 मीटर ऊंचा यह दर्रा महाराष्ट्र में पश्चिमी घाट की श्रेणियों में स्थित है। यहां से होकर दिल्ली मुंबई के प्रमुख सड़क मार्ग व रेलवे मार्ग गुजरते हैं।

भोरघाट  –

यह महाराष्ट्र राज्य के पश्चिमी घाट श्रेणियों में स्थित है। पुणे बेलगांव रेल मार्ग व सड़क मार्ग इसी तरह से होकर जाता है।

पालघाट –

यह केरल के मध्यपूर्व में स्थित है।यह दर्रा नीलगिरी तथा अन्नामलाई पहाड़ी के मध्य में स्थित है।

No comments:

Post a Comment