वन्यजीव अभयारण्य एवं राष्ट्रीय उद्यान

 

वन्यजीव अभ्यारण

Wildlife sanctuary and National park…..

वन्यजीव अभ्यारण…..

सरकार के प्रयासों से अथवा ‌अन्य संस्थाओं द्वारा संरक्षित वन ,पशु या पक्षी विहार को अभ्यारण कहा जाता है। वन्य जीव अभ्यारण का उद्देश्य पशु पक्षी या वन संपदा को संरक्षण प्रदान करना है। वन संपदा का विकास करना तथा अनुसंधान के क्षेत्र  की श्रेणी में रखा जाता है।
राष्ट्रीय उद्यान

राष्ट्रीय उद्यान…..

राष्ट्रीय उद्यान वह क्षेत्र होता है जहां पर किसी राष्ट्र की प्रशासन प्रणाली की सहायता द्वारा औपचारिक रूप से संरक्षण किया जाता है। सन 1776 में स्थापित किया गया  टोबेगो मुख्य पहाड़ी वन संरक्षित क्षेत्र विश्व का सबसे पहला राष्ट्रीय उद्यान माना जाता है।

वन्य जीव अभ्यारण एवं राष्ट्रीय उद्यान में अंतर

वन्यजीव अभ्यारण…

1. वन्यजीव अभ्यारण में मानवीय गतिविधियों की अनुमति होती है।
2. वन्य जीव अभ्यारण का मुख्य उद्देश्य एक विशेष वनस्पति या जीवन की रक्षा करना है।
3. अभ्यारण आमतौर पर केंद्रीय या राज्य सरकार के आदेश से बनते हैं।
4. अभ्यारण की कोई निश्चित सीमाएं परिभाषित नहीं है।
5. अभ्यारण को एक राष्ट्रीय उद्यान में परिवर्तित (Upgrade)किया जा सकता है।

राष्ट्रीय उद्यान…

1.राष्ट्रीय उद्यान में किसी भी प्रकार की मानवीय गतिविधि की अनुमति नहीं है।
2.राष्ट्रीय उद्यान में वनस्पति जीवो या ऐतिहासिक महत्व के किसी भी अन्य वस्तुओं को शामिल कर सकते हैं।
3. राष्ट्रीय उद्यान की कोई सीमाएं परिभाषित नहीं है।
4. राष्ट्रीय उद्यान राज्य या केंद्रीय विधान मंडल द्वारा बनाए जाते हैं।
5. एक राष्ट्रीय उद्यान को वन्यजीव अभ्यारण में नहीं बदला जा सकता।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *