मुंशी प्रेमचंद का जीवन परिचय

मुंशी प्रेमचंद का जन्म 31 जुलाई, 1880 को उत्तर प्रदेश के जिला वाराणसी के गाँव लमही में हुआ था।उनका असली नाम धनपत राय श्रीवास्तव था। उनकी शिक्षा का आरंभ उर्दू, फारसी पढ़ने से हुआ और रोजगार का पढ़ाने से 1898 Read More …

International tiger day

विश्व बाघ दिवस – वर्ष 2010 में रूस के सेंट पीटर्सबर्ग में हुए बाघ सम्मेलन में 29 जुलाई को अंतर्राष्ट्रीय बाघ दिवस मनाने की घोषणा की गई। इस सम्मेलन में 13 देशों ने भाग लिया था और उन्होंने 2022 तक Read More …

Kargil Vijay diwas

26 july को इसी दिन 1999 में, कारगिल युद्ध, जिसे कारगिल संघर्ष के रूप में भी जाना जाता है, औपचारिक रूप से समाप्त हो गया, भारतीय सैनिकों ने सफलतापूर्वक पहाड़ की ऊंचाइयों पर कब्जा कर लिया। कारगिल विजय दिवस, सफल Read More …

International yoga Day

 International yoga day –  नमस्कार दोस्तों आप सभी का स्वागत करता है आज हम एक महत्वपूर्ण विषय योग के बारे में बात करेंगे। योग एक प्राचीन भारतीय प्रथा है जो शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य को बनाए रखने में मदद करती Read More …

जलवायु परिवर्तन

पृथ्वी द्वारा उत्सर्जित पार्थिव विकिरण को अवशोषित करती है जिससे वायुमंडल के तापमान में वृद्धि होती है। इन गैसों को वायुमण्डल के ग्रीन हाउस गैस कहते है और वायुमण्डल के गर्म होने की इस प्रक्रिया को ग्रीन हाउस प्रभाव कहते Read More …

दादा भाई नौरोजी

Dadabhai Naroji – “Grand oldman of India” ‘भारत के महावृद्ध’ नाम से प्रसिद्ध दादा साहेब अर्थात Dadabhai_Naoroji (1825-1927) भारतीय राष्ट्रवाद के एक अग्रणी प्रस्तोता और उन्नायक थे। उनका जन्म 4 सितम्बर 1825 को हुआ था और 30 जून, 1917 को उनकी Read More …

विश्व रक्तदाता दिवस

नमस्कार दोस्तों आप सभी का educationalage पर स्वागत है। आज हम बात करेंगे ,  साल भर में एक बार मनाए जाने वाले विश्व रकतदान दिवस के बारे में जो रक्तवर्ग के खोजकर्ता कार्ल लैंडस्टीनर के जन्मदिन के रूप में मनाया Read More …

World environment day

विश्व पर्यावरण दिवस विश्व पर्यावरण दिवस को मनाने का उद्देश्य बढ़ते प्रदूषण और जलवायु परिवर्तन के कारण पर्यावरण के लिए खतरे के बारे में जागरूकता फैलाना है। पहला विश्व पर्यावरण दिवस 1974 में मनाया गया था, जो पर्यावरण में सकारात्मक Read More …

String of pearls

String of pearls – “String of pearls“स्ट्रिंग ऑफ पर्ल्स चीन की कोई औपचारिक नीति न होकर वैश्विक समुदाय द्वारा दिया गया नाम है। इसे  विशेषकर भारत को चीन द्वारा चारों तरफ से घेरने की रणनीति के रूप में देखा जाता Read More …